आज उनसे मिलना है

नाचन लागयो रे बैरागी मन अरे भागन लागयो रे बैरागी मन आज उनसे मिलना है हमें आज उनसे मिलना है हमें चल उनके लिए कुछ लेते चलें और उनको दुआएं देते चलें थोड़ी गुंजिया वुन्जिया देते चलें थोड़ी बर्फी वर्फी लेते चलें आज उनसे मिलना है हमें आज उनसे मिलना है हमें [महलों की रानी…

Read more आज उनसे मिलना है

जब तुम चाहो, पास आते हो

  जब तुम चाहो, पास आते हो जब तुम चाहो, दूर जाते हो जब तुम चाहो, पास आते हो जब तुम चाहो, दूर जाते हो चलती हमेशा मर्जी तुम्हारी कहते हो फिर भी प्यार करते हो माना मैंने गलतियां की थोड़ी थोड़ी सख्तियाँ की इश्क़ में थोड़ी सी मस्तियाँ की जब तुम चाहो, शिकवे गीले हो जब तुम…

Read more जब तुम चाहो, पास आते हो